More

    Latest Posts

    भारत में सबसे ज्यादा घाटे में चलने वाली कंपनी बनी वोडाफोन आइडिया, Paytm भी दूसरी तिमाही के टॉप-10 में लूजर्स में शामिल

    कर्ज में डूबी दूरसंचार कंपनी वोडाफोन आइडिया दूसरी तिमाही में भारत में सबसे ज्यादा घाटे में चलने वाली कंपनी बन गई है। शेयर बाजार को इसने सितंबर तिमाही में 7,562.8 करोड़ रुपये के नुकसान की सूचना दी है। वहीं, पेटीएम को चलाने वाली वन97 कम्युनिकेशंस ने दूसरी तिमाही में 588.8 करोड़ रुपये के नुकसान की सूचना दी है। पेटीएम स्टॉक अपने 52-सप्ताह के उच्च स्तर से 74% से अधिक नीचे है। 

    यह भी पढ़ें: टाटा ग्रुप का यह शेयर 52 हफ्ते के लो के करीब, खरीदें, बेचें या होल्ड करें

    दूसरी तिमाही में सबसे अधिक घाटा उठाने वाली टॉप-10 कंपनियों की लिस्ट में एचपीसीएल, स्पाइसजेट और पेटीएम भी शामिल हैं। अब तक जिन 4,000 से अधिक लिस्टेड कंपनियों ने अपने नतीजे घोषित की हैं, उनमें से 1,100 से अधिक लाल रंग यानी नुकसान में हैं। 

    वोडाफोन आइडिया पर संकट

    वोडाफोन आइडिया जिस वित्तीय संकट से गुजर रहा है, उसके बीच कंपनी के शेयर अपने 52 सप्ताह के उच्च स्तर से 50% से अधिक गिर गए हैं। ऑयल मार्केटिंग कंपनी एचपीसीएल दूसरी तिमाही के दौरान 2,172 करोड़ रुपये के साथ दूसरी सबसे बड़े नुकसान को झेल रही है।

    52-सप्ताह के उच्च स्तर से 36% से अधिक नीचे है Idea

    यह स्टॉक अपने 52-सप्ताह के उच्च स्तर से 36% से अधिक नीचे है। घटा उठाने वाली कंपनियों की सूची में दो एयरलाइंस भी इंटरग्लोब एविएशन और स्पाइसजेट भी शामिल हैं,  जिन्होंने क्रमशः 1,585.49 करोड़ रुपये और 837.88 करोड़ रुपये का घाटा दर्ज किया। 

    पीएसयू कंपनी मैंगलोर रिफाइनरी एंड पेट्रोकेमिकल्स, जो ओएनजीसी की सहायक कंपनी है, इसको सरकार द्वारा लगाए गए विंडफॉल टैक्स के कारण दूसरी तिमाही में 1,789.14 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ। जून 2022 में 127.60 रुपये के 1 साल के उच्च स्तर पर पहुंचने के बाद, तब से स्टॉक लगभग 59% गिर गया है। 

     

    Latest Posts

    Don't Miss